कोरोनावायरस सहित 5 हेल्थ कंडिशन्स, जब नही करना चाहिए सेक्स – what is the period to avoid sex in hindi

0
59
avoid physical relation in hindi
avoid physical relation

कोरोनावायरस (COVID 19) एक प्रकोप की तरह पूरी दुनिया पर टूट पड़ा हैं, चीन के बुहान शहर से शुरू होने वाली यह महामारी आज पूरी दुनिया में अपने पाव पसार चुकी हैं जिससे चारो तरफ अफरा तफरी का माहौल बना हुआ हैं। दुनिया भर की सरकारे लॉकडाउन जैसी गतिविधियों के साथ साथ इस दुविधा से पार पाने की कोशिश में जुटी हुई है और लोगो को अपने घरो में रहने की सलाह दी जा रही हैं। सभी व्यक्ति जब अपने घरो में हैं और अपने पार्टनर के साथ समय व्यतीत कर रहे हैं तो यह जाहिर सी बात हैं की उनके मन में शरीर सम्बन्ध बनाने का ख्याल भी अवश्य ही आएगा। लेकिन कोरोना वायरस के चलते हैं वह इस दुविधा में जरूर हैं की सेक्स कैसे करे या सेक्स करना सही है या नही ? तो आइए हम आपको कोरोनावायरस सहित 5 ऐसे सुझाव बताते है जब आपको अपने साथी के साथ सम्भोग करने से बचाना चाहिए।

सेक्स न करे अगर इन्फेक्शन का लग रहा है डर

कोरोनोवायरस (COVID-19) के संक्रमण से यदि आपको डर लग रहा है तो आप ऐसी मानसिकता की स्थित में सेक्स करने से परहेज करे। क्योंकि यह एक ऐसी बीमारी हैं जिसके लक्षण 2-14 दिन के अन्तराल पर दिखाई देते हैं और यह एक इंसान से दूसरे इंसान में फैलती हैं। यदि आप अपने पार्टनर के साथ शारीरिक सम्बन्ध बनाते हैं तो आप एक दूसरे के संपर्क में पूरी तरह से आ जाएंगे। बता दें की पुरुष का वीर्य और महिला की योनी से निकलने वाले द्रव पदार्थ से भी संक्रमण का खतरा बन सकता हैं। जिस व्यक्ति के साथ आप सेक्स करने जा रहे हैं यदि वह खासी, जुखाम, हल्का फुल्का बुखार, गले में परेशानी और सांस लेने जैसी परेशानी में हैं तो आप उसके साथ शारीरिक सम्बन्ध न बनाए।   

प्रेगनेंसी में सम्बन्ध न बनाए अगर ऐसा होता हैं

प्रेगनेंसी या गर्वास्था के सेक्स करना सही माना जाता हैं लेकिन इसकी भी अलग अलग कंडीशन रहती हैं। यदि आप जुड़वाँ बच्चो को जन्म देने वाले हैं, आपकी प्रेग्नेसी में जटिलता (pregnancy complications) की समस्या सामने आती हैं और यदि आपका पहले मिसकैरेज (miscarriage) हो गया है तो आप संभोग करने से बचे क्योंकि ऐसी स्थित में सेक्स करने से आपको परेशानी का सामना करना पड़ सकता हैं। अपने चिकित्सक से सलाह किए बिना तो सेक्स बिलकुल भी न करे।

सेक्स न करे अगर आप पैप स्मीयर टेस्ट कराने जा रहे हैं

पैप स्मीयर टेस्ट महिलाओं में होने वाला एक तरह का टेस्ट हैं जिसके लिए पहले से अपॉइंटमेंट लेनी पड़ती हैं। यदि आप पैप स्मीयर टेस्ट कराने वाले है तो कम से कम 4-5 घंटे पहले टेस्ट सेक्स न करे। बता दें कि इस टेस्ट और सेक्स से सम्बंधित अन्य जानकारियों का सुझाव डॉक्टर आपको टेस्ट दौरान मुहैया करा देते हैं। बता दें यह टेस्ट लड़कियों में बढ़ते हुए कैंसर को ध्यान में रखते हुए 21 वर्ष की उम्र में किया जाता हैं।

सेक्स न करे अगर हाल ही में डिलीवरी हुई हैं

डिलीवरी के बाद सेक्स करने से परहेज करना चाहिए क्योंकि बच्चे को जन्म देना इतना आसन नही होता हैं चाहे वह नार्मल हो या फिर सिजेरियन तरीके से हो। बता दें कि डिलीवरी के बाद (sex day after delivery) 6-7 सप्ताह तक संभाग नही करना चाहिए क्योंकि प्रसव के बाद शरीर में कमजोरी आ जाती हैं। अगर आप खुद को अधिक समय देंगे तो इससे आपका शरीर शीघ्र ठीक हो जायेगा और आपमें एक नयी ऊर्जा का संचार होना स्वाभविक हैं। तो आप ऐसी स्थित में सेक्स करने से बचे।  

सेक्स न करे वैक्स या लेज़र थेरैपी लेने के तुरंत बाद

वैक्स या लेज़र थेरैपी लेने के तुरंत बाद आप सेक्स करने से बचे और कम से कम यह समय अवधि 24 घंटे तो अवश्य होनी चाहिए। क्योंकि प्राइवेट पार्ट के आसपास वैक्स या लेज़र थेरैपी कराने त्वचा नाजुक, जलन सील और संवेदनशील हो जाती हैं जिससे आपको परेशानी का सामना करना पड़ सकता हैं। हालाकि यदि आप 24 घंटे में भी अपने आप को सेक्स करने के लिए स्वस्थ नही समझ रहे है तो इस समय अवधि को और अधिक बढ़ा सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here