शिलाजीत के 5 प्रमुख फायदे- Shilajit ke fayde in Hindi

0
2241
shilajit benefits in hindi

Shilajit ke fayde: शिलाजीत एक ऐसी चीज है जिसे नपुंसकता के सबसे पुराने प्राकृतिक उपचारों में से एक माना जाता है। शिलाजीत को प्राचीन समय से ही पुरुषों के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है। इसके अलावा यह धीरज, मेटाबोलिज्म, प्रतिरक्षा, स्मृति, शक्ति और जीवन शक्ति को बचाने में भी फायदेमंद माना जाता है। बहुत से लोग अक्सर सवाल करते हैं कि शिलाजीत कैसे काम करता है और यह किन चीज़ों से बना होता है या शिलाजीत के फायदे क्या हैं? आज इस लेख में हम आपको शिलाजीत के फायदों के बारे में बताने जा रहें हैं और इसके साथ ही इसका सेवन कैसे करते हैं इस टॉपिक पर भी बात करेंगे।

यह भी पढ़िए : हल्दी वाले दूध के फायदे और नुकसान

शिलाजीत क्या है- What Is Shilajit in Hindi

शिलाजीत एक जड़ी-बूटी से बनी दवा है, जिसे लोग सलाजीत, मुमियो, खनिज पिच, डामर, मिनरल वैक्स और ऑज़ोकाराइट जैसे नामों से भी जानते हैं। बता देन कि शिलाजीत एक पर्वतीय पदार्थ है जोकि काले- भूरे रंग के तरल रूप में होता है, जोकि विशेष रूप से भारत और नेपाल के बीच हिमालय के पहाड़ों में ऊँची पर्वती चट्टानों से निकलता है। इसके अलावा शिलाजीत अफगानिस्तान, रूस, तिब्बत और चिली के उत्तरी हिस्सों में भी पाया जाता है, जहां इसे एंडियन शिलाजीत (Andean Shilajit) के रूप में जाना जाता है।

यह भी पढ़िए : केला खाने के फायदे और नुकसान

शिलाजीत ‘पहाड़ी पसीना’ एक फाइटोकोम्पलेक्स है जिसमें चट्टानों की परतों द्वारा प्राप्त खनिज, धरण (humus), आर्गेनिक प्लांट मिनरल और फुल्विक एसिड की उच्च सांद्रता होती है। आपको बता दें कि ह्यूमस में 60-80% कार्बनिक पदार्थ होते हैं और यह स्वाद में कड़वा होता है तथा इसकी खुशबू गाय के मूत्र के समान होती है। शिलाजीत का इस्तेमाल कई सालों से आयुर्वेदिक चिकित्सा के रूप में एंटी-एजिंग, हीलिंग और पॉवर बढाने की दवा के रूप में किया जाता है। ऐसा माना जाता है कि शिलाजीत शरीर के सारे रोगों को ठीक कर सकता है, जिसकी वजह से आज भी इसे टैबलेट और कैप्सूल के रूप में भी लिया जाता है।

शिलाजीत के फायदे- Shilajit ke fayde in Hindi

shilajit benefits in hindi: वैसे तो शिलाजीत के कई फायदे हैं लेकिन यहां हम आपको इसके 5 प्रमुख फायदों के बारे में बताने जा रहें हैं। नीचे दिए गए शिलाजीत के फायदे आपको कई बीमारियों से निजाद पाने लाभदायक साबित होंगे।

1.अल्जाइमर रोग के लिए फायदेमंद होता है शिलाजीत- shilajit benefits for alzheimer in hindi

अल्जाइमर एक मस्तिष्क में होने वाला रोग है जो किसी भी इंसान में ब्रेन डिसऑर्डर, स्मृति, व्यवहार परिवर्तन और चिंता जैसी समस्याओं का कारण बनता है। वैसे तो अल्जाइमर के लक्षणों में सुधार के लिए दवा उपलब्ध है लेकिन शिलाजीत की आणविक संरचना के आधार पर कई शोधकर्ताओं का मानना है कि शिलाजीत अल्जाइमर को बढ़ने से रोकता है या इसे इसके बढ़ने की गति को धीमा भी कर देता है। शिलाजीत में पाया जाने वाला मुख्य घटक एक एंटीऑक्सिडेंट है जिसे फुल्विक एसिड के रूप में जाना जाता है। बता दें कि यह शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट ताऊ प्रोटीन (Tau protein) के संचय को रोककर संज्ञानात्मक स्वास्थ्य में योगदान देता है। शोधकर्ताओं का मानना है कि शिलाजीत में पाया जाने वाला फुल्विक एसिड ताऊ प्रोटीन के असामान्य निर्माण को रोक सकता है और सूजन को कम करता है।

2. शिलाजीत के फायदे पुरषों के लिए- Shilajit benefits for male in Hindi

टेस्टोस्टेरोन एक प्राथमिक पुरुष सेक्स हार्मोन है। आपको बता दें कि कई बार यह हार्मोन कुछ पुरुषों में इसका स्तर कम होता है। जिन भी पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन कम होता है उनमें पार्टनर से ज्यादा देर तक सम्बन्ध न होना, बाल झड़ना, मांसपेशियों में कमी आना और शरीर में ज्यादा थकान होना जैसे लक्षण शामिल हैं। एक शौध में यह पाया गया है कि शुद्ध शिलाजीत का सेवन टेस्टोस्टेरोन का स्तर बढ़ा सकता है।

3. क्रोनिक फेटीग सिंड्रोम के लिए फायदेमंद है शिलाजीत- Shilajit benefits for chronic fatigue syndrome in Hindi

क्रोनिक फेटीग सिंड्रोम (सीएफएस) एक ऐसी स्थित है जो अत्यधिक थकान कारण बनती है। सीएफएस एक ऐसा रोग है जो आपकी रोजमर्रा की गतिविधियां को भी कठिन बना सकता है। इस रोग की वजह से इतनी परेशानी होती है कि इंसान को छोटे मोटे काम करने में भी थकान महसूस होती है। शोधकर्ताओं का मानना है कि शिलाजीत की खुराक क्रोनिक फेटीग सिंड्रोम के लक्षणों को कम कर सकती है और शरीर की ऊर्जा को बढ़ा सकती है।

4. बढती उम्र को रोक सकता है शिलाजीत- Shilajit benefits for aging in Hindi

शिलाजीत में पाया जाने वाला फुल्विक एसिड एक मजबूत एंटीऑक्सिडेंट है जो मुक्त कणों और सेल क्षति से भी शरीर की रक्षा कर सकता है। शिलाजीत के नियमित उपयोग से उम्र लंबी होती और उम्र बढ़ने की प्रक्रिया भी कम होती है।

5. दिल के लिए फायदेमंद होता है शिलाजीत- Shilajit benefits for heart in Hindi

आपको बता दें कि शिलाजीत हार्ट हेल्थ के लिए भी फायदेमंद होता है। जब शोधकर्ताओं ने लैब चूहों पर शिलाजीत के कार्डियक परिक्षण किया। इस परिक्षण में कई चूहों को दिल में चोट देने के लिए आइसोप्रोटीनॉल इंजेक्शन लगाया। इसके बाद अध्ययन में यह पाया गया कि शिलाजीत देने के बाद चूहों में पहले की अपेक्षा चूहों में हृदय संबंधी कम घाव थे।

शिलाजीत के नुकसान- Shilajit side effects in Hindi

शिलाजीत के साइड इफेक्ट्स: वैसे तो शिलाजीत एक प्राकृतिक जड़ी-बूटी जिसका सेवन करने से कोई खतरा नहीं होता। लेकिन बता दें कि आपको कच्चे या बिना पके हुए शिलाजीत का सेवन कभी नहीं करना चाहिए। क्योंकि कच्चा शिलाजीत अशुद्ध हो सकता है जिसमें भारी धातु आयन, फ्री रेडिकल, फंगस और अन्य दूषित तत्व शामिल हो सकते हैं। आप किसी भी ऐसी जगह से या ऑनलाइन माध्यम से शिलाजीत को ख़रीदे जो शुद्ध हो और सीधे उपयोग के लिए तैयार हो। अगर आपके खून में बहुत अधिक आयरन है या हेमोक्रोमैटोसिस या थैलेसीमिया है तो आपको शिलाजीत का सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि इससे आपको एलर्जी हो सकती है। अगर शिलाजीत का सेवन करने से आपकी हार्ट बीट तेज होती है या चक्कर आते हैं तो आपको इसके सेवन से बचना चाहिए।

यह भी पढ़िए : च्यवनप्राश खाने के फायदे

शिलाजीत का उपयोग कैसे करें- How to use Shilajit in Hindi

shilajit khane ka tarika in hindi: बता दें कि बाजार में शिलाजीत तरल और पाउडर रूपों में उपलब्ध है। अगर आप तरल रूप में इसे खरीदते हैं तो चावल के दाने या मटर के आकार के एक हिस्से को दिन में एक से तीन बार पिएं। इसके अलावा आप दूध के साथ शिलाजीत पाउडर दिन में दो बार ले सकते हैं। शिलाजीत की अनुशंसित खुराक प्रति दिन 300 से 500 मिलीग्राम है। शिलाजीत का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य ले लें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here