घर घर औषधि योजना हिंदी में: Ghar Ghar Aushadhi Yojana Rajasthan in Hindi

Ghar Ghar Aushadhi Yojana Rajasthan in Hindi, Registration: राजस्थान सरकार अपने नागरिकों के लिए घर-घर औषधि योजना 2022 शुरू की है. इस योजना में राजस्थान सरकार अपने राज्य के नागरिकों को औषधीय पौधे उपहार के रूप में प्रदान करेगा.राजस्थान वन विभाग की नर्सरी सैकड़ों और हजारों औषधीय पौधों के पौधे विकसित कर रही हैं जिन्हें जल्द ही राज्य के लोगों को गिफ्ट के रूप में दी जाएगी. इस लेख में हम आपको राजस्थान घर-घर औषधि योजना के बारे में पूरी जानकारी देने जा रहें हैं, जिसे आपको जानना बेहद जरुरी है.

Ghar Ghar Aushadhi Yojana Rajasthan

क्या है राजस्थान की घर-घर औषधि योजना- What is ghar ghar aushadhi yojana

राजस्थान घर घर औषधि योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य में रहने वाले सभी परिवारों को औषधीय जड़ी बूटियों के पौधे को पहुँचना है. सरकार द्वारा राज्य के नागरिकों को तुलसी, अश्वगंधा, गिलोय,कालमेघ औषधि प्रदान की जाएगी. बता दें कि इस योजना की पांच साल की अवधि में राज्य का हर परिवार 24 पौधे प्राप्त करने का हकदार होगा. इस योजना में शुरुआत पहले वर्ष में 8 पौधे से होगी, जो कुल मिलाकर 30 करोड़ से अधिक पौधे हैं.

Ghar Ghar Aushadhi Yojana Detail in Hindi

योजना का नामघर घर औषधि योजना (GGAY)
राज्यराजस्थान
शुरुआत कब की गई 2021
लाभराजस्थान औषधीय पौधों
लाभार्थी राजस्थान के निवासी
अधिकारिक वेबसाइट (Official website)forest.rajasthan.gov.in

राजस्थान में घर घर औषधीय अभियान- Rajasthan Ghar Ghar Aushadhi Yojana in Hindi

राजस्थान घर घर औषधि योजना की शुरुआत हाल ही के बजट में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के द्वारा की गई थी. इस योजना का सबसे बड़ा उद्देश्य पौधों और लोगों के बीच लाभकारी संबंधों को मजबूत करना है. आपको बता दें कि यह पौधे राजस्थान में अच्छी मात्र में पाए जाते हैं और इनका इस्तेमाल पारंपरिक रूप से स्वास्थ्य पूरक और हर्बल दवाओं को बनाने में किया जाता है. राजस्थान घर घर औषधि योजना अभियान के अंतर्गत पौधो के रखरखाव और उचित उपयोग की जानकारी प्रदान भी प्रदान की जाएगी.

आपको बता दे कि राजस्थान राज्य जैव विविधता में समृद्ध है और यहाँ पर कई प्रकार के औषधीय पौधे भी पाए जाते हैं. राज्य सरकार की घर-घर औषधि योजना इस प्राकृतिक संपदा के संरक्षण में मदद करेगी और लोगों को स्वस्थ रखने के लिए
जड़ी-बूटियों और पौधों के महत्व को समझने में मदद करेगी.

राजस्थान में घर घर औषधीय योजना की शरूआत कब की गई

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 72वें वन महोत्सव एवं ‘घर-घर औषधि योजना‘ की शरुआत 1 अगस्त 2021 की.

घर-घर औषधि योजना का क्रियान्वयन

राजस्थान घर-घर औषधि योजना को सफल बनाने के लिए राज्य के कई विभाग योगदान दे रहे हैं. आपको बता दें कि इस योजना के लिए नोडल विभाग वन विभाग है. इस योजना के लिए जमीनी स्तर पर उचित कार्यान्वयन सुनिश्चित करने के लिए सभी जिलों में उनके संबंधित जिला कलेक्टरों के अधीन जिला स्तरीय टास्क फोर्स का गठन किया गया है. राज्य के मुख्य सचिव की अध्यक्षता में एक राज्य स्तरीय समिति द्वारा बड़े पैमाने पर राजस्थान घर-घर औषधि अभियान की निगरानी की जाएगी.

घर घर औषधि योजना के लाभ

  • यह योजना राजस्थान सरकार एक बहुत अच्छी पहल है. आपको बता दें कि इस योजना में वन विभाग द्वारा औषधीय पौधे नर्सरी में तैयार किये जायेंगे और राज्य के परिवारों को निशुल्क वितरित किये जायेंगे.
  • औषधीय पौधे का वितरण पंचायत, नगर पालिका, नगर निगम, तहसील समेत अन्य विभागों के माध्यम से किया जायेगा.
  • इस योजना का लाभ राजस्थान राज्य के सभी नागरिक उठा सकते हैं.
  • इस योजना की मदद से लोगों में अपने घर में औषधीय पौधे लगाने के प्रति
  • जागरूकता पैदा होगी.
  • इस योजना को 2021 से 2024 तक चलाया जायेगा.

Official Website: Click Here

Ghar Ghar Aushadhi Yojana Logo Download PDF

अपना ई श्रम कार्ड बनवाएं Click Here

Leave a Comment