आदमी में कैंसर के 10 प्रमुख लक्षण: cancer symptoms in hindi

0
373
cancer ke lakshan in hindi
cancer ke lakshan in hindi

about cancer in hindi कैंसर के शुरुआती लक्षण: कैंसर एक ऐसी बीमारी है जो कब किसको हो जाये इसका पता नहीं चलता। अमेरिका में वयस्क पुरुषों में मृत्यु का सबसे बड़ा कारण कैंसर है। कैंसर एक ऐसा रोग जो अगर फैल जाए तो इसका इलाज मुश्किल हो सकता है। लेकिन एक स्वस्थ आहार आप कैंसर विकसित होने का खतरा कम हो सकता है। अगर अप शुरुआती लक्षणों के बारे में और उसके उपचार के तरीके खोज रहें हैं तो यह लेख आपके लिए बहुत काम की है, यहाँ पर हम आपको कैंसर के शुरुआती लक्षणों (cancer ke lakshan in Hindi) के बारे में बताने जा रहें है जिसकी मदद से आप समय रहते कैंसर को फैलने से रोक सकते हैं।

1. आंत के कैंसर के लक्षण- about cancer symptoms in hindi

image credit: indiatv

cancer ke lakshan कभी-अभी आंत में समस्या एक सामान्य बात है लेकिन आंत में परिवर्तन बृहदान्त्र या मलाशय (colon or rectal cancer) के कैंसर का संकेत हो सकता है। इस कैंसर को सामूहिक रूप से कोलोरेक्टल कैंसर कहा जाता है। कोलन कैंसर आपके आपके बृहदान्त्र के किसी भी हिस्से में विकसित हो सकता है, जबकि मलाशय कैंसर आपके मलाशय को प्रभावित करता है, जो बृहदान्त्र (colon) को गुदा से जोड़ता है। इस कैंसर के लक्षण है कि इसमें बार-बार दस्त और कब्ज की समस्या हो सकती है। इसमें आंत में परिवर्तन बहुत ही तेजी के साथ होता है। लगातार गैस और पेट दर्द के साथ भी ये समस्याएं भी इस कैंसर का प्रमुख लक्षण है।आपके आंत में मोवमेंट कैलिबर या आकार में परिवर्तन भी कैंसर का एक लक्षण हो सकता है।

ओट्स खाने के फायदे

2. मलाशय से रक्तस्राव- pet ka cancer ke lakshan in hindi

रेक्टल ब्लीडिंग (मलाशय से रक्तस्राव) रेक्टल कैंसर का शुरुआती संकेत हो सकता है। लेकिन इसमें यह बात गौर करने वाली है कि रक्तस्राव हमेशा हो रहा है या आपको रक्त की कमी के कारण आयरन की कमी से एनीमिया की परेशानी है। अगर आप अपने मल में खून देख रहें  तो यह बवासीर के लक्षण भी हो सकते हैं। अगर आपको यह समस्या लगातार बनी रहती है तो आपको इसका निदान स्वयं करने की कोशिश नहीं करना चाहिए और अपने डॉक्टर से बात करना चाहिए। अगर आपकी उम्र 50 रूप से ज्यादा है तो आपको नियमित रूप  कोलन कैंसर की जांच करवानी चाहिए।

कीवी फ्रूट खाने के फायदे और नुकसान

3. मूत्र में परिवर्तन आना प्रोस्टेट कैंसर के लक्षण- prostate cancer ke lakshan in hindi

बता दें आपके मूत्र में परिवर्तन आपकी उम्र के अनुसार हो सकते हैं लेकिन इसमें से कुछ बदलाव प्रोस्टेट कैंसर का संकेत देते हैं। 60 साल और उससे अधिक उम्र के पुरुषों में प्रोस्टेट कैंसर होना बेहद आम बात है।

प्रोस्टेट कैंसर के लक्षण

  • मूत्र का रिसाव
  • पेशाब लगने के बाद बावजूद करने में असमर्थता
  • पेशाब में देरी होना
  • पेशाब के दौरान तनाव

4. मूत्र में रक्त आना – uterus cancer symptoms in hindi

अगर आपके पेशाब में रक्त आ रहा है तो आपको इसे अनदेखा नहीं करना चाहिए। क्योंकि मूत्र में रक्त आना मूत्राशय के कैंसर का एक सामान्य लक्षण है। इस प्रकार का कैंसर धूम्रपान करने वाले लोगों में ज्यादा देखा जाता है। प्रोस्टेटाइटिस (Prostatitis), प्रोस्टेट कैंसर (prostate cancer)और मूत्र पथ के संक्रमण भी मूत्र में रक्त आने का कारण हो सकते हैं। बता दें कि वीर्य में रक्त आना भी प्रोस्टेट कैंसर का प्रमुख कारण है।

5. लगातार पीठ दर्द होना हड्डी का कैंसर के संकेत और लक्षण– bone cancer ke symptoms in hindi

पीठ दर्द वैसे तो आम बात है लेकिन कुछ पुरुषों पर किये गए शोध से यह पता चला है कि लगातार पीठ दर्द होना हड्डी का कैंसर के संकेत और लक्षण हो सकते हैं।  कैंसर एक ऐसी बीमारी है जिसके लक्षण तब तक दिखाई नहीं दे सकते हैं, जब तक कि यह आपके शरीर के अन्य भागों में फैल न जाए। उदाहरण के लिए आपकी रीढ़ की हड्डियाँ।

बता दें की प्रोस्टेट कैंसर में यह विशेष रूप से हड्डियों में फैलने का खतरा होता है और आपके कूल्हे की हड्डियों के भीतर और पीठ के निचले हिस्से में दर्द भी प्रोस्टेट कैंसर के लक्षण हो सकते हैं। कभी-कभी मांसपेशियों में लगातार दर्द हड्डी का कैंसर का संकेत भी हो सकता है।

6. असामान्य रूप से खांसी होना फेफड़े के कैंसर के शुरुआती लक्षण– lung cancer symptoms in hindi

lung cancer ke lakshan खांसी की परेशानी सिर्फ धूम्रपान करने वालों या सर्दी या एलर्जी वाले लोगों तक ही सीमित नहीं रहती। बता दें कि लगातार खांसी फेफड़े के कैंसर का प्रारंभिक संकेत है। अगर आपको अन्य स्वस्थ संबंधित परेशानी जैसे कि सर्दी या बुखार नहीं है, तो हो सकता है कि आपको खांसी शायद वायरस या संक्रमण के कारण नहीं है। खांसी के दौरान खून निकलना भी फेफड़े के या लंग कैंसर के शुरुआती लक्षण हो सकते हैं।

7. वृषण कैंसर के लक्षण और संकेत– testicular cancer symptoms in hindi

cancer ke lakshan in hindi पुरुषों में वृषण कैंसर प्रोस्टेट, फेफड़े और बृहदान्त्र के कैंसर से कम देखे जाते हैं लेकिन इसे बाद भी वृषण कैंसर के लक्षण को अनदेखा नहीं करना चाहिए। बता दें कि अंडकोष (testicles )में गांठ वृषण कैंसर (testicular cancer) के लक्षण हैं। अगर आपको ऐसी कोई परेशानी है तो आप डॉक्टर जांच करवा सकते हैं।

8. शरीर में अत्यधिक थकान होना– cancer ke lakshan thakan hona

शरीर में ज्यादा थकान होना कई पुरानी बीमारियों और चिकित्सा विकारों से संबंधित हो सकती है। बता दें कि जैसे-जैसे कैंसर कोशिकाएं बढ़ती हैं और फैलने लगी है तो शरीर में थकान होना शुरू हो जाती है। वैसे भी शरीर में थकान विभिन्न कैंसर का एक सामान्य लक्षण है। अगर आपके शरीर में ज्यादा थकान रहती है और जो रात को अच्छी नीद के बाद भी दूर नहीं होती तो आपको किसी अच्छे डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

9. अस्पष्टीकृत तरीके से वजन घटना- weight loss

जैसे-जैसे आपकी उम्र बढती है तो अपना वजन बनाये रखना अधिक कठिन हो जाता है, इसलिए बढती उम्र के साथ वजन कम होने को आप सकारात्मक चीज मान सकते हैं। लेकिन अचानक और अस्पष्टीकृत वजन घटना भी एक किसी प्रकार के कैंसर का संकेत हो सकता है। इसका बिना व्यायाम करे या फिर बिना अपनी डाइट बदले आपके शरीर में अस्पष्टीकृत तरीके से वजन कम हुआ है तो आपको इसके लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

10. स्तन में गांठ होना स्तन कैंसर के लक्षण- breast cancer symptoms in hindi

Brest cancer ke lakshan बता दें कि स्तन कैंसर का खतरा महिलाओं तक ही सीमित नहीं है। पुरुषों को भी स्तन क्षेत्र में कैंसर होने की समस्या हो सकती है। संदिग्ध गांठों को रोकने और पता लगाने के लिए आपको डॉक्टर से  जांच करवाना चाहिए। स्तन में गांठ होना पुरुष स्तन कैंसर का लक्षण है जिसके होने पर आपको डॉक्टर से तुरंत संपर्क करना चाहिए। जीन्स भी पुरुष स्तन कैंसर में का प्रमुख कारण हो सकते हैं। लेकिन गांठ होना शरीर में उच्च एस्ट्रोजन के स्तर के कारण भी हो सकता है। बता दें कि स्तन गांठ 60 साल के पुरुषों में सबसे अधिक देखे जाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here