अलसी का बीज (फ्लैक्स सीड्स) खाने के 9 फायदे – alsi seeds benefits in hindi

1
650
flax seeds
flax seeds benefits

alsi seeds roasted alsi beej oil powder health benefits for weight loss ka tel flaxseed ke fayde in hindi : अलसी का बीज (फ्लैक्स सीड्स) हमारे शरीर के लिए बहुत लाभदायक साबित होता हैं। इससे मिलने वाले पोषक तत्व हमारे शरीर को स्वस्थ और निरोग बनाने में लाभ पहुंचाते है। बता दें कि छोटे से दिखने वाले अलसी के बीज खाने से ह्रदय सम्बंधी समस्या को दूर रखा जा सकता हैं। वैसे फ्लैक्स सीड्स के कई फायदे है लेकिन इस लेख में हम आपको अलसी के महत्वपूर्ण फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं जोकि आपको कई चमत्कारी फायदे दे सकते हैं।   

अलसी क्या है?- what is flax seed in hindi

flaxseed in hindi : अलसी एक बहुत ही प्राचीन फसल हैं जो कि अनन्य पोषक तत्वों से भरपूर हैं। अलसी के छोटे-छोटे दिखने वाले बीज भूरे और सुनहरे दो प्रकार के होते हैं। जो कि समान रूप से पौष्टिक (flaxseed nutrition) होते हैं। अलसी के चमत्कारी गुण देख कर हर कोई दंग रह जाता हैं क्योंकि इसमें फाइबर, प्रोटीन और ओमेगा-3 फैटी एसिड (omega 3 fatty acid) की मात्रा भरपूर पाई जाती हैं।

यह भी पढ़ें: ओट्स खाने के फायदे

अलसी के बीज का सेवन करने से कई तरह के चमत्कारी फायदे देखे गए हैं और रोगों से छुटकारा मिला हैं। क्योंकि इसमें पोषक तत्वों की भरमार होती हैं जो कि हमारे शरीर को छोटी-बड़ी सभी तरह की बीमारियों से लड़ने के लिए तैयार रखते है और फायदा पहुंचाते हैं। तो आइए आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से फ्लैक्स सीड्स (अलसी के बीज) से होने वाले फायदों के बारे में जानकारी देते हैं।

अलसी खाने के फायदे – flax seed benefits in hindi

अलसी में पाए जाने वाले औषधीय गुणों की वजह हमें कई तरह के फायदे मिलते है जोकि जोकि बीमारियों को हमारे शरीर से दूर रखते हैं।

(1) अलसी के बीज खाने का फायदा हार्ट अटैक से सुरक्षा – flaxseed benefits for heart patients in hindi

अलसी के बीज खाने के फायदे में शामिल ह्रदय रोग या हार्ट अटैक एक प्रमुख फायदा हैं। दरअसल अलसी के बीज में ओमेगा -3 फैटी एसिड पाया जाता हैं जो कि उन व्यक्तियों को सबसे अधिक फायदा पहुंचाता है जो शाकाहारी हैं या मांस मछली का खाने से परहेज करते हैं। फ्लैक्स सीड्स ओमेगा-3 वसा का सबसे अच्छा स्रोत हो सकता हैं। यह अल्फा लिनोलेनिक एसिड का समृद्ध स्रोत माना जाता हैं जो कि अधिकतर पौधे-आधारित ओमेगा-3 फैटी एसिड हैं। अल्फा लिनोलेनिक एसिड दो महत्वपूर्ण फैटी एसिड में से एक जिसका निर्माण हमारा शरीर नही करता हैं बल्कि हमारे द्वारा खाए गए खाने से प्राप्त करना होता है।

एक पशु अध्यन के अनुसार यह पाया गया कि अलसी का बीज ALA कोलेस्ट्रॉल को हृदय की रक्त वाहिकाओं में जमा होने से रोकता है, ट्यूमर की वृधि को कम करता हैं, धमनियों में आने वाली सूजन को कम करता हैं और ओमेगा-3 फैटी एसिड अल्फा लिनोलेनिक एसिड का समृद्ध स्रोत हैं और यह हृदय स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता हैं जो कि हार्ट-अटैक की संभावनाओं को कम करता हैं।

(2) अलसी खाने से कैंसर रोग में फायदा – flaxseed benefits for cancer in hindi

अलसी का बीज लिग्नांस (Lignans) का एक समृद्ध स्रोत हैं और यह कैंसर जैसी बीमारियों के जोखिम को कम करने में मदद करता हैं। लिग्नांस पौधे के यौगिक होते हैं जिसमे एंटीऑक्सीडेंट और एस्ट्रोजन (antioxidant and estrogen) गुण पाए जाते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह दोनों कैंसर जैसी बीमारियों खतरे को कम करने मदद करते हैं। अलसी के बीज की सबसे रोचक बात यह है कि इसमें दूसरे पौधो की तुलना में 800 गुना अधिक लिग्नांस पाया जाता हैं। अलसी खाने से स्तन कैंसर का खतरा कम हो जाता है।

(3) अलसी का बीज कोलेस्ट्रॉल पर नियंत्रण करने में फायदेमंद – flax seeds to reduce cholesterol in Hindi

अलसी के बीज का एक फायदा कोलेस्ट्रोल (improve cholesterol quickly) को कम करना भी हैं। एक अध्यन से पता चलता हैं कि उच्च कोलेस्ट्रोल वाले व्यक्तियों द्वारा अलसी का तीन चम्मच (लगभग 30 ग्राम) पॉउवडर खाने पर कुल 17% कोलेस्ट्रोल और लगभग 20% एलडीएल कोलेस्ट्रोल की मात्रा को कम पाया गया हैं। इसके अलावा एक अध्यन से पता चलता हैं कि मधुमेह से ग्रस्त लोगो को प्रतिदिन एक चम्मच (10 ग्राम) अलसी के पॉउवडर को अपने आहार में शामिल करने से अच्छे एलडीएल कोलेस्ट्रोल में लगभग 12% तक की वृद्धि देखी गई हैं।

पोस्टमेनॉपॉजल महिलाओं फ्लैक्स सीड्स का सेवन करने से फायदा होता हैं यदि वह 30 ग्राम अलसी के बीज का पॉउवडर अपने आहार में नियमित रूप से लेती हैं तो कुल कोलेस्ट्राल में 7% और एलडीएल कोलेस्ट्रोल में 10% तक की कमी आ जाती हैं। ऐसे व्यक्ति जो अपने कोलेस्ट्रॉल की समस्या से जूझ रहे हैं उनके लिए एक शानदार उपचार साबित हो सकता हैं। अलसी के बीज में स्थित उच्च फाइबर की मात्रा ह्रदय को स्वस्थ बनाने में भी फायदेमंद साबित होता हैं।

(4) पाचन तंत्र के लिए फायदेमंद है अलसी – flax seeds ke fayde for digestion in hindi

फ्लैक्सीड में होती है डाइटरी फाइबर की भरपूर मात्रा और इसके अलावा यह कई तरह से फायदेमंद होता है क्योंकि इसमें फाइबर की मात्रा पर्याप्त मात्रा मे है। हमारे दैनिक जीवन में उपयोग की जाने वाली चम्मच से एक चम्मच अलसी के आहार में 3 ग्राम फाइबर पाया जाता है जोकि पुरुषों और महिलाओं के दैनिक जीवन में 8-12% फाइबर की कमी को पूरा करता है। अलसी के बीज में पोषक तत्व के रूप में दो प्रकार के फाइबर ( घुलनशील और अघुलनशील 60%-80%) पाए जाते हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि घुलनशील फाइबर (soluble fiber) आपकी आंत की सामग्री की स्थिरता को बढ़ाने में मददगार होता है और पाचन प्रक्रिया को धीमा बनाए रखता है। अघुलनशील फाइबर (insoluble fiber) आपको अधिक पानी पीने की अनुमति प्रदान करता है जिससे मल को बांधने में फायदा मिलता है। इसके अलावा अघुलनशील फाइबर चिड़चिड़ा आंत्र सिंड्रोम (irritable bowel syndrome) के लक्षण या डायवर्टिकुलर रोग और कब्ज जैसी बीमारियों को रोकने में फायदा पहुंचाता है। अगर आप अपने पाचन स्वस्थ को बेहतर बनाना चाहते हैं तो अपने आहार में नियमित रूप से फ्लैक्सीड्स का सेवन करें।

(5) अलसी के बीज खाने के लाभ बालों के लिए – alsi seeds benefits for hair in hindi

बालों का झड़ना आजकल एक आम बात हो गई है। यदि आप भी इस समस्या से जूझ रहे हैं तो हम आपको बता दें कि अलसी का बीज आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है। अलसी का बीज ओमेगा 3 फैटी एसिड, प्रोटीन और विटामिन से भरपूर होता है और यह आपके बालों को झड़ने से रोकने में मदद करता है। बालों के झड़ने की कोई भी वजह हो सकती है जैसे साइड इफेक्ट, मौसम का परिवर्तन और किसी अन्य पोषक तत्वों की कमी से भी बाल झड़ने लगते हैं। यदि आप भी चाहते हैं कि आपके बाल लंबे और सुरक्षित रहें तो आप फ्लैक्सीड का उपयोग अपने रोजाना के आहार में शामिल कर सकते हैं।

(6) अलसी के फायदे लिवर के लिए- flax seeds fayde for liver in hindi

अलसी एक ऐसा औषधीय बीज है जिसको खाने से आपको लीवर संबंधी समस्याओं से छुटकारा मिल जाएगा। हम अपनी दिनचर्या में इतने व्यस्त हो जाते हैं कि अपने खानपान पर ध्यान नहीं दे पाते हैं। इसकी वजह से हमारे लीवर में समस्या उत्पन्न होने लगती है, लेकिन यदि आप अपनी डेली रूटीन अलसी के पोषक तत्वों को शामिल करते हैं तो आपके लीवर के स्वास्थ्य के लिए अच्छा होगा।

(7) ब्लड सुगर नियंत्रित करता है असली का बीज -flaxseed benefits for liver in hindi

अलसी के बीज से ब्लड सुगर को नियंत्रित करने में फायदा मिलता हैं इसके अलावा (type 2 diabetes) मधुमेह एक बड़ी समस्या हैं जिससे दुनियाभर में लोग परेशान हैं। कुछ अध्ययनों का विश्लेषण करने के बाद पाया गया कि टाइप 2 मधुमेह के रोगी व्यक्ति यदि 10-20 ग्राम अलसी का सेवन अपने रोजाना के आहार में करते हैं तो रक्त शर्करा के स्तर में 8-20% तक की कमी देखी जा सकती हैं। यदि सीधे अर्थो में समझे तो फ्लैक्स सीड्स डायबिटीज के मरीजो के लिए फायदेमंद और पौष्टिक साबित हो सकता है।

(8) ब्लड प्रेशर कम करने में फ्लैक्स सीड्स फायदेमंद- alsi ke beej ke fayde for blood pressure low in hindi

फ्लैक्स सीड्स ब्लड प्रेसर के मरीजों के लिए भी फायदेमंद साबित होता हैं। एक कनाडाई अध्यन के मुताबिक 6 महीने तक 30 ग्राम फ्लैक्स सीड्स का सेवन करने पर सिस्टोलिक और डायस्टोलिक रक्तचाप की मात्रा क्रमशः 10 MMHG और 7 MMHG तक कम  हो जाती हैं। इसके अलावा जो लोग ब्लड प्रेशर की दवाई पहले से ले रहे हैं अलसी बीज उनके रक्त चाप को और कम कर देता हैं। ऐसे व्यक्ति जो अनियंत्रित (uncontrolled high blood pressure) की  मरीजों की संख्या में 17% तक की कमी आई हैं। 11 अध्ययनों का विश्लेषण करने के बाद पाया गया कि प्रतिदिन 3 महीने से ऊपर अलसी के बीज का सेवन करने से 2 एमएमजीएच में कमी आती हैं और इस 2 MMGH की कमी से 10% हार्ट अटैक और 7% हृदय रोग की समस्या कम हो सकती हैं।  

(9) अलसी का बीज वजन कम करने में मददगार – alsi ke beej for weight loss in hindi

alsi se motapa kam karne ke upay अलसी का बीज देखने में जितना छोटा है इसकी गुणवत्ता उतनी ही अधिक है। शायद आपको नहीं पता होगा कि छोटा सा दिखने वाला फ्लैक्सीड हमारे शरीर को कितना फायदा पहुंचाता है। अलसी के बीच में लिग्गन और ओमेगा 3 पाई जाती है जोकि शरीर में चर्बी को एकत्रित होने से रोकती है।

आजकल हम देखते हैं कि हम अपने काम में इतने व्यस्त हो जाते हैं कि एक्सरसाइज करने तक के लिए भी समय नहीं निकाल पाते हैं और हमारा शरीर धीरे-धीरे मोटापा के अधीन होता चला जाता है। यदि आप भी ऐसी ही रूटीन फॉलो करते हैं तो हम आपको बता दें कि अलसी का सेवन आप अपने आहार के रूप में करना शुरू कर सकते हैं जिससे आपको मोटापे की समस्या से धीरे-धीरे छुटकारा मिल जाएगा। अलसी का सेवन आप खाना खाने से लगभग 1 घंटे पहले करें और उसके बाद पानी पीना ना भूलें।

अलसी के बीज में पाए जाने वाले पोषक तत्व और उनसे मिलने वाले फायदे – flaxseed nutrition facts in hindi

अलसी में पाए जाने वाले पोषक तत्व जोकि अलसी का सेवन करने पर काफी फायदा पहुंचाते हैं। एक चमच आहार में आए जाने वाले पोषक तत्वों की मात्रा इस प्रकार हैं।

असली में पाए जाने वाले पौषक तत्व प्रति 7 ग्राम में
कैलोरी (Calories) 37 ग्राम
प्रोटीन (Protein) 1.3 ग्राम
कार्ब्स (Carbs) 2 ग्राम
फाइबर (Fiber) 1.9 ग्राम
कुल वसा (Total fat) 3 ग्राम
संतृप्त वसा (Saturated fat) 0.3 ग्राम
मोनोअनसैचुरेटेड वसा (Monounsaturated fat) 0.5 ग्राम
पॉलीअनसेचुरेटेड वसा (Polyunsaturated fat) 2 ग्राम
ओमेगा -3 फैटी एसिड (Omega-3) 1597 मिली ग्राम

(Source)

   % of Reference Daily Intake (RDI) 
विटामिन बी 1 (Vitamin B1) : 8%
विटामिन बी 6 (Vitamin B6 ) 2%
फोलेट (Folate) 2%
कैल्शियम (Calcium) 2%
लोहा (Iron) 2%
मैग्नीशियम (Magnesium) 7%
फास्फोरस (Phosphorus) 4%
पोटेशियम (Potassium) 2%

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here